The heart of India is a land here love for arts have been witnessed since ancient times. It is the home of the love for verses of not only Hindi literature but folk literature too. The session of Kalam in Raipur is dedicated to revive the richness of Hindi and make the audience discover new works that have the promise of becoming exemplary in future.
भारत का दिल वह भूमि है, जहां कला के प्रति प्रेम प्राचीन काल से ही दिखाई देता है. यह न केवल हिंदी साहित्य बल्कि लोक साहित्य के छंदों के लिए भी उर्वरा और प्यार जताने वाली भूमि है. रायपुर में कलम का सत्र, हिंदी की समृद्धि को पुनर्जीवित करने और दर्शकों को नए कार्यों की खोज करने के वादे को समर्पित है, जो भविष्य में अनुकरणीय बन जाएगा.