The passion to celebrate literature ar it's best has made Kalam cross the seven seas and reach out to an audience who are far away from home. Our overseas sessions that are hosted in London are a fine example of how you can take an Indian away from India but never India away from an Indian.
साहित्य को सर्वश्रेष्ठ तरीके से मनाने के अपने जुनूनसे कलम सातसमंदर में पार कर गया और उन पाठकों तक पहुंच गया, जो अपने घरों से बहुत दूर हैं. लंदन में आयोजित हमारे विदेशी सत्र इस बात का एक उम्दा उदाहरण हैं कि आप एक भारतीय को भारत से दूर कैसे ले जा सकते हैं, लेकिन भारत कभी भी एक भारतीय से दूर नहीं हो सकता.